श्री माधवेश्वर महादेव

mahadev

श्री राधामाधव युगल भगवान के ईशान कोण में नर्मदेश्वर लिंग के रूप में श्री माधवेश्वर महादेव की प्रतिष्ठा है। यहां भगवान शंकर नंदीश्वर के साथ लिंग के रूप में विराजमान है। इस नर्मदेश्वर लिंग में प्राकृतिक रुप से लाल रंग का त्रिपुंड बना हुआ है जो इसकी दिव्यता को बताता है। भगवान शंकर के लिंग रूप के दर्शन मात्र से भक्ति एवं आयु, आरोग्य, लक्ष्मी की प्राप्ति होती है। प्रति सोमवार दूध या गंगाजल से रूद्राभिषेक एक वर्ष तक करने से मनोकामना पूर्ण होती है।